Jamghat kab hai 2024 :- जमघट त्यौहार कब मनाया जाता है पूरी जानकारी

Jamghat kab hai

Jamghat kab hai 2024:- हम आपको बताएंगे कि जामघाट त्योहार क्या है और इसे कब मनाया जाता है। कृपया हमें सूचित करें।

Jamghat kab hai ?

हिंदू जमघाट उत्सव मनाते हैं। जामघाट महोत्सव रविवार, 2 नवंबर 2024 को आयोजित किया जाएगा। जामघाट महोत्सव कब मनाया जाता है यदि यह दिवाली के दो दिन बाद आता है? हमने आपको भारतीय कैलेंडर के अनुसार जानकारी दी है।

जामघाट महोत्सव kya है?

लखनऊ का जामघाट उत्सव बहुत खास है। आज हर कोई पतंग उड़ाता है और कई लोग एक-दूसरे की पतंग पर दांव भी लगाते हैं। कुछ जगहों पर पतंग उड़ाने की बड़ी प्रतियोगिताएं भी होती हैं।

जामघाट उत्सव साहूकारों और नवाबों के समय से जुड़ा हुआ है और सभी लोग इसे जामघाट के दूसरे दिन मनाते हैं। यह परंपरा काफी समय से चली आ रही है इसलिए हर कोई इसे बड़े ही धूमधाम से करता है।

FAQ- Jamghat Festival Date

जामघाट उत्सव किस धर्म द्वारा मनाया जाता है?

जामघाट उत्सव लखनऊ में सभी धर्मों के लोगों द्वारा मनाया जाता है।

2023 में सामाजिक जामघाट कब होगा?

जामघाट 2023: 13 नवंबर को नवाबों के शहर में सजेगा ‘जामघाट’, पतंगों से सजेगा बाजार नवाबों के समय से चली आ रही लखनऊ की अद्भुत प्रथा जामघाट का जश्न सोमवार को मनाया जाएगा।

जामघाट कार्यक्रम के आगमन पर क्या होता है?

जामघाट पहुंचने पर हर उम्र के लोग पतंग उड़ाते हैं। इस समय के दौरान, ‘यह अनुकूलित संरचना, वह व्यक्तिगत संगठन’ का हंगामा दिन भर चारों ओर दोहराया जाता रहता है। इतना ही नहीं, जब कोई किसी की पतंग काट देता है तो वे जश्न भी मनाते हैं और शोर-शराबा करके नाचते-गाते भी हैं। जमघट की विशेषता यह है कि इसे व्यक्तियों द्वारा स्वीकार किया जाता है, सब कुछ समान है।

जामघाट किस कारण से मनाया जाता है?

जामघाट लखनऊ में दिवाली के अगले दिन मनाया जाने वाला एक असाधारण उत्सव है जिसमें विभिन्न समुदायों के लोग भाग लेते हैं। इसकी शुरुआत नवाबों के समय में हुई, जो अपने लाव-लश्कर के साथ गोमती के तट पर एकत्र होते थे।

मिलन समारोह के आगमन पर क्या करना चाहिए?

इस दिन घरों की पुताई की जाती है। मिट्टी में धोने के बाद नए कपड़े पहने जाते हैं और साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखा जाता है। इस दौरान दीपक जलाना, रंगोली बनाना, देवी लक्ष्मी की पूजा करना, मिठाइयां बांटना, बढ़िया पकवान बनाना और नई चीजें खरीदना बहुत जरूरी है।

Joine TelegramClick Here
Whatsapp ChannelClick Here