Months Name In Hindi And English- 12 महीनों के नाम हिंदी और इंग्लिश में

Months Name In Hindi

Months name in hindi:- यदि कोई पूछे कि यह कौन सा महीना है, तो त्वरित उत्तर होगा – जनवरी या फरवरी। बच्चों को महीनों के नाम याद दिलाते समय हम उन्हें सिर्फ जनवरी, फरवरी और वॉक याद कराते हैं। दरअसल, भारत में भी कई लोग ऐसे हैं जिन्हें अंग्रेजी नहीं आती, फिर भी अगर उनसे महीनों के नाम पूछे जाएं तो वे इन महीनों के नाम वैसे ही बता देते हैं। हालाँकि जनवरी, फरवरी, वॉक, अप्रैल अंग्रेजी शेड्यूल के नाम हैं, हिंदी के नहीं। ऐसे में आइए आज हम आपको बताते हैं हिंदी शेड्यूल के एक साल के नाम…

संपूर्ण महीनों के नाम हिंदी अनुसूची से

हिंदी अनुसूची के अनुसार चैत्र वर्ष का प्रमुख महीना है और फाल्गुन वर्ष का अंतिम महीना है। हिन्दी धर्म में महीनों की सापेक्ष बहुलता के नाम इस प्रकार हैं- चैत्र, बैसाखी, ज्येष्ठ, आषाढ़, श्रावण, भाद्रपद, आश्विन, कार्तिक, मार्गशीर्ष, पौष, माघ और फाल्गुन।

महीनों के नाम और उनमें क्या खास है

महीनों के नाम और उनमें क्या खास है

12 महीनो के नाम इंग्लिश में

  1. January
  2. February
  3. March
  4. April
  5. May
  6. June
  7. July
  8. August
  9. September
  10. October
  11. November
  12. December

Kolkata FF Tips – Ghosh Babu द्वारा कोलकाता Fatafat Tips 2024

Months name in hindi (हिन्दू कैलेंडर के अनुसार)

  1. चैत्र: यह महीना आमतौर पर ग्रेगोरियन कैलेंडर में मार्च और अप्रैल के बीच आता है। यह हिंदू चंद्र वर्ष की शुरुआत का प्रतीक है।
  2. वैशाख: मोटे तौर पर अप्रैल-मई में पड़ने वाला यह महीना विशु और बैसाखी जैसे विभिन्न त्योहार मनाने के लिए महत्वपूर्ण है।
  3. ज्येष्ठ: मई-जून के आसपास आने वाला ज्येष्ठ अक्षय तृतीया और बुद्ध पूर्णिमा जैसे त्योहारों को मनाने के लिए महत्वपूर्ण है।
  4. आषाढ़: जून-जुलाई के आसपास पड़ने वाला आषाढ़ मानसून के मौसम की शुरुआत और गुरु पूर्णिमा जैसे त्योहारों के लिए महत्वपूर्ण है।
  5. श्रावण: यह महीना आम तौर पर जुलाई-अगस्त में पड़ता है और रक्षा बंधन और नाग पंचमी जैसे त्योहारों के लिए जाना जाता है।
  6. भाद्रपद: अगस्त-सितंबर में पड़ने वाला भाद्रपद गणेश चतुर्थी और पितृ पक्ष जैसे त्योहार मनाने के लिए महत्वपूर्ण है।
  7. आश्विन: सितंबर-अक्टूबर के आसपास होने वाला आश्विन नवरात्रि और दुर्गा पूजा समारोहों के लिए महत्वपूर्ण है।
  8. कार्तिक: अक्टूबर-नवंबर में पड़ने वाला कार्तिक दिवाली और तुलसी विवाह उत्सव के लिए एक महत्वपूर्ण महीना है।
  9. मार्गशीर्ष: यह महीना आमतौर पर नवंबर-दिसंबर में आता है और कार्तिक पूर्णिमा और सर्दियों के मौसम की शुरुआत के लिए महत्वपूर्ण है।
  10. पौष: दिसंबर-जनवरी में पड़ने वाला पौष मकर संक्रांति और अन्य फसल त्योहारों के लिए महत्वपूर्ण है।
  11. माघ: जनवरी-फरवरी के आसपास होने वाला माघ, माघ पूर्णिमा और बसंत पंचमी जैसे त्योहारों के लिए महत्वपूर्ण है।
  12. फाल्गुन: यह महीना आमतौर पर फरवरी-मार्च में आता है और होली और महा शिवरात्रि उत्सव के लिए महत्वपूर्ण है।

Hindi में महीने का नाम क्या है?

महीनों के नाम हिंदी में इस प्रकार हैं:
जनवरी (January)
फरवरी (February)
मार्च (March)
अप्रैल (April)
मई (May)
जून (June)
जुलाई (July)
अगस्त (August)
सितंबर (September)
अक्टूबर (October)
नवंबर (November)
दिसंबर (December)

कुछ मासिक विशेष आयोजन क्या हैं?

जनवरी: नए साल का आरम्भ, गणतंत्र दिवस
फरवरी: मातृभाषा दिवस, महाशिवरात्रि
मार्च: होली, वसंत पंचमी
अप्रैल: रामनवमी, महावीर जयंती
मई: महाराणा प्रताप जयंती
जून: योग दिवस, फादर्स डे
जुलाई: डॉक्टर्स डे, विश्व जनसंख्या दिवस
अगस्त: रक्षा बंधन, जन्माष्टमी
सितंबर: शिक्षक दिवस, विश्व योग दिवस
अक्टूबर: दशहरा, गाँधी जयंती
नवंबर: दिवाली, चिल्ड्रेन्स डे
दिसंबर: क्रिसमस, खिलाड़ी दिवस

क्या कुछ महीनों में कोई सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित होते हैं?

हाँ, भारत भर में विशिष्ट महीनों में कई सांस्कृतिक त्यौहार मनाए जाते हैं। उदाहरण के लिए:
होली: मार्च में मनाया जाता है
दिवाली: अक्टूबर या नवंबर में मनाया जाता है
नवरात्रि: सितंबर या अक्टूबर में मनाया जाता है

हिंदी में महीनों के नाम का क्या अर्थ होता है?

हिंदी में महीनों का नामकरण सांस्कृतिक विरासत के संरक्षण में मदद करता है और भाषा के उपयोग को प्रोत्साहित करता है। यह लोगों को उनकी सांस्कृतिक विरासत और परंपराओं से भी जोड़ता है।

मैं हिंदी महीनों और उनके अर्थ के बारे में और अधिक कैसे जान सकता हूँ?

हिंदी महीनों और उनके महत्व के बारे में अधिक जानने के लिए आप हिंदी साहित्य और सांस्कृतिक वेबसाइटें पढ़ सकते हैं। हिंदी संस्कृति और परंपराओं को भाषा सीखने के प्लेटफार्मों और पुस्तकों के माध्यम से भी सीखा जा सकता है।

Joine TelegramClick Here
Whatsapp ChannelClick Here